Arthritis: Symptoms, Causes & Treatment

गठिया (अर्थराइटिस) क्या होता है ?

दोस्तों गठिया एक पीड़ादायक बीमारी है इसमें मरीज को काफी असहनीय दर्द होती है ऐसे में हमारी सलाह है यह पहले आप डॉक्टर से मिले इसके बाद ही घरेलू उपचार या अन्यत्र बचाव के तरीकों पर ध्यान दें गठिया एक आजीवन रहने वाली या कभी पूरी तरह ठीक ना होने वाली बीमारी है अगर जोड़ों में दर्द और सूजन है तो आपको गठिया की शिकायत हो सकती है गठिया आज ना सिर्फ बूढ़े लोगों में देखने को मिलती है बल्कि गठिया के चपेट में नौजवान और छोटे बच्चे भी आ रहे हैंं गठिया की बीमारी वंशानुगत भी हो सकती है अगर गठिया होने के परिवारिक इतिहास है तो नई पीढ़ी में गठिया होने के अवसर काफी बढ़ जाते हैं गठिया शरीर के किसी एक जोड़ या एक से अधिक जोड़ों को प्रभावित कर सकती है सामान क्या घटिया को आसरा ठीक कहते हैं गठिया में चलने फिरने उठने में असहनीय दर्द होता है गठिया के जोड़ों में यूरिक एसिड के जमा होने या कैल्शियम की कमी हो जाने से जोड़ों में सूजन और अकड़न आ जाती है और गांठ बनने के साथ-साथ कांटा चुभने जैसा महसूस होता हैै गठिया शरीर के किसी एक जोड़ या एक से अधिक जोड़ों को प्रभावित कर सकती है गठिया में चलने फिरने उठने में असहनीय दर्द होता है

गठिया (अर्थराइटिस) के लक्षण क्या है ?

गठिया (अर्थराइटिस) मांसपेशियों में दर्द, जोड़ों में दर्द, सामान्य मूवमेंट पर भी शरीर में असहनीय दर्द, थकान और सुस्ती, जोड़ों के आस पास की त्वचा पर गाँठें बन जान, भूख की कमी, वज़न का घटने, शरीर पर लाल चकत्ते पड़ जाना बार बार बुखार आना । व्यक्ति इतना कमज़ोर होने लगता है कि वह दो क़दम चलने पर भी थकान महसूस करता है।

गठिया (अर्थराइटिस) से बचाव कैसे किया जा सकता है?

  • वजन को नियंत्रित रखें मोटापा को नियंत्रित रखें
  • एक ही स्थिति में बैठने आ खड़े रहने से बचें
  • हफ्ते में कम से कम 2 बार मछली का सेवन जरूर करें
  • ओमेगा-3 और विटामिन D3 का सेवन करें
  • जोड़ों की गर्म या ठंडी से सिकाई करें
  • धूम्रपान और शराब से हमेशा दूर रहे हैं
  • ओमेगा 3 फैटी एसिड युक्त खाद्य पदार्थ जैसे अलसी अखरोट सोयाबीन या कद्दू के बीज का सेवन करें
  • हर दिन योग या व्यायाम करें और तनाव लेने से बचें।

Buy it on Amazon